मेलबर्न: आस्ट्रेलिया के मेलबर्न में एक कार के पैदल चलने वालों पर चढ़ जाने से कम से कम 18 लोग घायल हो गए थे. इस मामले में एक नया खुलासा हुआ है. घायल करने वाले व्यक्ति ने कहा कि उसने ‘‘मुसलमानों के साथ होने वाले दुर्व्यवहार’’ का बदला लेने के लिए हमला किया. ऑस्ट्रेलियाई अधिकारियों ने यह जानकारी देते हुए कहा कि उसे घटना के किसी आतंकी समूह से संबंधित होने की अब तक जानकारी नहीं मिली है. मेलबर्न हमले में हमलावर ने किया बदले के लिए अटैक घायलों में एक भारतीय और तीन दक्षिण कोरियाई नागरिकों सहित नौ विदेशी शामिल हैं. उनमें चीन, इटली, वेनेजुएला, आयरलैंड और न्यूजीलैंड का एक-एक नागरिक शामिल है. एक ऑस्ट्रेलियाई-अफगान चालक ने अपनी कार भीड़भाड़ वाली एक जगह पर घुसा दी थी जिसमें कई लोग घायल हो गए और घायलों में से तीन की हालत गंभीर है. अधिकारियों ने घटना को ‘‘जानबूझकर किया गया कृत्य’’ बताया. 32 साल का संदिग्ध शरणार्थी के तौर पर ऑस्ट्रेलिया आया था और मादक पदार्थों की लत एवं मानसिक समस्या से ग्रस्त रहा है. प्रधानमंत्री मैलकम टर्नबुल ने दोहराया कि अधिकारियों को ‘‘अब तक’’ किसी आतंकी संबंध का पता नहीं चला है. उन्होंने कहा, ‘‘हमारे एक बड़े शहर में इस तरह से हमला होना स्तब्ध करने वाली घटना है, स्तब्ध करने वाला अपराध है.’’