शीर्ष वरीयता प्राप्त एंडी मर्रे ने आस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस टूर्नामेंट में अपने जादुई प्रदर्शन जारी रखते हुए आज यहां आसान जीत के साथ तीसरे दौर में प्रवेश किया। लेकिन विश्व के पूर्व नंबर 1 खिलाड़ी रोजर फेडरर को 200वीं रैंकिंग के खिलाड़ी के खिलाफ जीत दर्ज करने के लिए काफी पसीना बहाना पड़ा जबकि दुनिया की नंबर 1 महिला खिलाड़ी बर्थ डे गर्ल एंजलिक कर्बर के लिये भी मुकाबला आसान नहीं रहा।

मर्रे को तीसरे सेट में टखने में दर्द के कारण उपचार भी लेना पड़ा लेकिन इसके बावजूद उन्हें रूसी क्वालीफायर आंद्रेय रूबलेव को 6—3, 6—0, 6—2 से हराने में किसी तरह की परेशानी नहीं हुई।

फेडरर ने भी अमेरिका के नोह रूबिन को सीधे सेटों में 7—5, 6—3, 7—6 से हराया लेकिन पहले सेट में एक समय वह हारने की स्थिति में पहुंच गए थे जबकि तीसरे सेट में भी उन्होंने सर्विस गंवाई। फेडरर ने तीसरा सेट टाईब्रेकर में 7—3 से जीता।

सत्रहवीं वरीयता प्राप्त और 17 बार के ग्रैंडस्लैम चैंपियन के लिये अगली चुनौती भी आसान नहीं होगी क्योंकि तीसरे दौर में उनका सामना दसवीं वरीयता प्राप्त चेक गणराज्य के टामस बर्डिच से होगा। फेडरर भी इससे अच्छी तरह वाकिफ हैं। उन्होंने कहा, 'यह आसान ड्रा नहीं है। उसने (बर्डिच) मुझे न्यूयार्क और विंबलडन में हराया था। इसके अलावा ओलंपिक में वह मुझे हरा चुके हैं। वह मुझे यहां भी हराना चाहेंगे।

महिला वर्ग में कर्बर को भी गमीर् और अपनी हमवतन जर्मन प्रतिद्वंद्वी कारिना विथोइफ्ट के सामने पसीना बहाना पड़ा। आज अपना 29वां जन्मदिन मनाने वाली कर्बर ने यह मैच 6—2, 6—7, 6—2 से जीता। उन्होंने बाद में कहा, 'मैंने महत्वपूर्ण क्षणों में कई गलतियां की। लेकिन आखिर में मैं जीतने में सफल रही और इससे मैं खुश हूं।'

आस्ट्रेलिया के बैड ब्वॉय निक किर्गियोस की कोर्ट पर हूटिंग भी हुई। पहले दो सेट में उन्होंने हालांकि शानदार खेल दिखाया लेकिन इसके बाद अपनी लय खो बैठे। इटली के आंद्रियास सेपी ने मैच प्वाइंट बचाया और आखिर में तीन घंटे नौ मिनट तक चले मैच में किर्गियोस को 1—6, 6—7, 6—4, 6—2, 10—8 से हराकर तीसरे दौर में प्रवेश किया।

आस्ट्रेलिया के ही 27वें वरीय बनार्ड टोमिच हालांकि तसीरे दौर में पहुंचने में सफल रहे। उन्होंने डोमिनिका के विक्टर एस्ट्रेला बगोर्स को 7—5, 7—6, 4—6, 7—6 से शिकस्त दी।

पुरूष वर्ग में ही फेडरर के हमवतन और पूर्व चैंपियन स्टैन वावरिंका ने अमेरिका के स्टीवन जानसन को 6—3, 6—4, 6—4 से जबकि जापान के पांचवीं वरीयता प्राप्त केई निशिकोरी ने भी फ्रांस के जेरेमी चाडीर् को 6—3, 6—4, 6—3 से पराजित किया। बर्डिच को भी अमेरिका के रेयान हैरिसन को 6—3, 7—6, 6—2 से हराने में थोड़ा संघर्ष करना पड़ा लेकिन 12वें वरीय फ्रांसीसी जो विल्फे्रड सोंगा ने सर्बिया के डुसान लाजोविच को अच्छा सबक सिखाया। उन्होंने यह मैच 6—2, 6—2, 6—3 से जीता।

अमेरिका के 19वीं वरीयता प्राप्त जान इसनर को पांच सेट तक चले कड़े मुकाबले में जर्मनी के मिशा जेवरेव के हाथों हारकर बाहर का रास्ता देखना पड़ा। जर्मनी खिलाड़ी ने पहले दो सेट टाईब्रेकर में गंवाने में बाद अच्छी वापसी करके 6—7, 6—7, 6—4, 7—6, 9—7 से जीत दर्ज करके तीसरे दौर में प्रवेश किया।

महिला वर्ग में कर्बर के अलावा 13वीं वरीय वीनस विलियम्स और आठवीं वरीय स्वेतलाना कुजनेत्सोवा ने भी तीसरे दौर में जगह बनायी। वीनस ने क्वालीफायर स्टेफनी वोगले को 6—3, 6—2 से हराया। उनका अगला सामना चीन की दुआन यिंगयिंग से होगा।

रूसी खिलाड़ी कुजनेत्सोवा ने वाइल्ड कार्ड से प्रवेश पाने वाली जेमी फोरलिस को 6—2, 6—1 से पराजित किया और अब उन्हें सर्बिया की अनुभवी येलेना यांकोविच से भिड़ना है। फ्रेंच ओपन चैंपियन गबार्इन मुगुरूजा को तीसरे दौर में जगह बनाने के लिये जूझना पड़ा। स्पेन की इस सातवीं वरीय खिलाड़ी ने अमेरिका की सामंता क्राफोर्ड को 7—5, 6—4 से हराया।

मुगुरूजा को अब लाटविया की 32वीं वरीय अनस्तेसिया सेवास्तोवा से भिड़ना है जिन्होंने क्रिस्टिना कुकोवा को आसानी से दो सेट में 6—3, 6—4 से पराजित किया। उक्रेन के 11वीं वरीय इलिना स्तितलोना ने अमेरिका की जुलिया बोसरप को 6—3, 6—4 से शिकस्त दी।