भुवनेश्वर और हार्दिक ने बचाई टीम इंडिया की लाज...

भारतीय टीम चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में अपने चिर प्रतिदंद्वी पाकिस्तान के आगे बुरी तरह से फेल रही. रविवार को खेले गए इस मुकाबले में भारत की बल्लेबाजी, गेंदबाजी, फील्डिंग सबकुछ पाकिस्तान से बदतर ही रहा. यही कारण था कि टीम इंडिया 180 रनों से हारी. एक तरफ जहां पूरी टीम इंडिया फेल रही, वहीं दूसरी ओर टीम के दो खिलाड़ी ऐसे थे जिन्होंने पाकिस्तान को कड़ी टक्कर दी और थोड़ी इज्जत बचाने में कामयाब रहे. जी, ये खिलाड़ी थे हार्दिक पंड्या और भुवनेश्वर कुमार.

सब पिटे बस, भुवी लड़ते रहे रविवार को पाकिस्तान टीम के बल्लेबाज अपने पूरे रंग में थे, हर बल्लेबाज समझो कसम खाकर आया था कि आज कुछ कर दिखाना है. वहीं दूसरी ओर भारतीय बॉलर भी लगातार गलती कर रहे थे, बुमराह ने फखर को आउट किया लेकिन वह गेंद भी नो-बॉल निकली. इसके अलावा अश्विन-जडेजा की जोड़ी भी नहीं चल पाई. लेकिन भारतीय गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने इस दौरान भी शानदार गेंदबाजी की, उन्होंने शुरुआत में ही 2 मेडन ओवर डाले. भुवनेश्वर ने 10 ओवर देकर 44 रन दिए और 1 विकेट झटका.

यह भी पढ़े :  कोलंबो में कोहली कर सकते हैं वो 'विराट' कमाल, जो दुनिया में कोई कप्तान नहीं कर पाया

दिग्गज ढेर, पंड्या शेर भारतीय बॉलिंग की तरह बल्लेबाजी भी पाकिस्तान के सामने फेल रही. भारत के 54 रनों पर 5 विकेट गिर चुके थे, और सभी दिग्गज पेवेलियन में बैठे थे. लेकिन युवा ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या ने आखिरी दम तक हिम्मत नहीं हारी और पाकिस्तानी टीम पर बरस पड़े. हार्दिक ने मात्र 43 गेंद में 76 रन ठोक डाले, इस दौरान उन्होंने 4 चौके और 6 छक्के मारे. अगर हार्दिक पंड्या रन आउट ना होते थे, तो शायद मैच में कुछ और दिलचस्पी बन सकती थी.

और हार गया हिंदुस्तान चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल में पाकिस्तान ने भारत को करारी शिकस्त देकर पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी के खिताब पर अपना कब्जा किया है. इसी के साथ ही भारत का तीसरी बार चैंपियंस ट्रॉफी जीतने का सपना भी चकनाचूर हो गया है. विराट कोहली की कप्तानी में आईसीसी का टूर्नामेंट खेल रही टीम इंडिया का फाइनल से पहले तक का सफर तो बेहद शानदार रहा, लेकिन खिताबी मुकाबले में टीम बिखर गई.

यह भी पढ़े :  MS धोनी ने बनाई 100वीं हाफ सेंचुरी, सचिन तेंडुलकर ने दी खास बधाई

इसी तरह साल 2013 का चैंपियन भारत यह खिताब नहीं बचा पाया. पाकिस्तान ने भारत को जीत के लिए 339 रनों का लक्ष्य दिया था. जिसके जवाब में टीम इंडिया 30.3 ओवर में 180 रन पर ही ऑल आउट हो गई और पाकिस्तान की टीम ने मैच 180 रनों से अपने नाम कर लिया. भारत की ओर से हार्दिक पंड्या (76) के अलावा कोई बैट्समैन नहीं चला.पाकिस्तान की ओर से मोहम्मद आमिर ने 3/16 विकेट, हसन अली ने 3/19 विकेट, शादाब खान ने 2/60 विकेट और जुनैद खान ने 1/20 विकेट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *