BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनते ही बलात्कार के आरोपी मंत्री गायत्री प्रजापति को सलाखों के पीछे पहुंचाया जाएगा. शाह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को चुनौती देते हुए कहा कि वे गुनाहगारों का गिरेबान पकडे है  ... उनसे नहीं होगा अखिलेश ..ना करना हो तो ना करो 11 मार्च तारीख को भाजपा की सरकार बनेगी तो हम गायत्री प्रजापति को पाताल से भी ढूंढ़कर सलाखों के पीछे डाल देंगे. उन्होंने कहा कि प्रदेश की पुलिस ने अखिलेश के खासम खास गायत्री के खिलाफ बुंदेलखंड की एक माता और बेटी के बलात्कार के आरोप पर एफआईआर नहीं दर्ज की. मां बेटी को उच्चतम न्यायालय(High Court) जाना पड़ा और शीर्ष अदालत के आदेश पर प्राथमिकी दर्ज की गई. शाह ने कहा कि उसके बाद भी 6 दिन तक गायत्री चुनाव प्रचार करते रहे और पुलिस ने उन्हें नहीं पकड़ा. गायत्री ने 27 फरवरी को वोट भी डाल दिया, तब भी नहीं पकड़ा. कहते हैं कि गायब हो गए, फिर कहते हैं कि सरेंडर (आत्मसमर्पण) करो. क्या सरेंडर की सलाह के लिए मुख्यमंत्री या पुलिस होती है ?