कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित आर्मी चीफ को लेकर दिए गए बयान को लेकर घिरे हुए है. उनके इस बयान को लेकर सियासी घमासान जारी है. बीजेपी कार्यकर्ता संदीप दीक्षित के घर GET WELL SOON वाला कार्ड और फूल लेकर पहुंच गए. बीजेपी कार्यकर्ताओं का कहना है कि संदीप दीक्षित का मानसिक संतुलन खराब हो गया है. इसी कारण बीजेपी कार्यकर्ता बुके और कार्ड देने उनके घर गए थे. बता दें कि बीजेपी कार्यकर्ताओं को संदीप दीक्षित घर पर तो नही मिले लेकिन वो कार्ड और फूल उनके घर देकर आ गए. ये था बयान दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के बेटे संदीप दीक्षित ने सेना प्रमुख बिपिन रावत को 'सड़क का गुंडा' की संज्ञा दी है. उन्होंने कहा कि हमारे सेना प्रमुख जब 'सड़क के गुंडे' की तरह बोलते हैं, तो खराब लगता है. उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान फौज में क्या रखा है. वहां तो सब माफिया टाइप के लोग हैं, पर हमारे सेना अध्यक्ष इस तरह के बयान क्यों देते हैं. हमारे यहां सभ्यता है, सौम्यता है, गहराई है और ताक़त है. दीक्षित के इस बयान के बाद बीजेपी ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया. हालंकि वो इस बयान को लेकर पहले ही माफी मांग चुके है लेकिन उसके बावजूद भी सियासी पारा गर्म है. इसके साथ उन्होंने कहा था कि हमारा देश दुनिया के देशों में एक आदर्श देश की तरह सामने आता है. हम भी इसी तरह की हरकत करेंगे तो बहुत ही ओछा लगेगा. राहुल गांदी ने भी कड़ी निंदा उनके इस बयान को लेकर विवाद हुआ जिसको लेकर सत्ता पक्ष के साथ-साथ विपक्ष ने भी संदीप दीक्षित के बयान की कड़ी आलोचना की थी. कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी संदीप के बयान को गलत बता चुके है. उन्होंने संदीप दीक्षित को कड़ी फटकार लगाई. साथ ही उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि सेना पर सवाल खड़े करना बिल्कुल गलत है.