बीजिंग  चीन ने अमेरिका से डोनाल्ड ट्रंप के शपथ ग्रहण समारोह में ताइवानी प्रतिनिधिमंडल के शामिल होने का आमंत्रण रद करने का आग्रह किया है। अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति ट्रंप ने दिसंबर महीने में दशकों की परंपरा को तोड़ते हुए ताइवान की राष्ट्रपति से टेलीफोन पर बात करके उनकी बधाई स्वीकार की थी। साथ ही दोनों देशों के संबंध मजबूत होने की आशा जताई थी।

चीन का ऐतराज़

स पर चीन ने कड़ा विरोध जताया था और कहा था कि यह अमेरिका की वन चाइना पॉलिसी के खिलाफ है। बावजूद इसके ट्रंप से जुड़े अधिकारियों ने ताइवान को शपथ ग्रहण समारोह का न्योता भेजा है। ताइवान की राष्ट्रपति साई इंग वेन के प्रवक्ता के अनुसार पूर्व प्रधानमंत्री यू शी कुन के नेतृत्व में जाने वाला प्रतिनिधिमंडल केवल समारोह में शामिल होगा। उसमें शामिल लोग अमेरिकी अधिकारियों के साथ द्विपक्षीय चर्चा नहीं करेंगे।

समझौते को किसी तरह से नुकसान पहुंचाने के प्रयास का चीन विरोध करेगा। वह ट्रंप के शपथ ग्रहण समारोह में ताइवान से जाने वाले प्रतिनिधिमंडल का भी विरोध करेगा। प्रवक्ता ने कहा, हम अमेरिका से अनुरोध करते हैं कि वह ताइवान के साथ किसी तरह के आधिकारिक संबंध न बनाए। चीन की संप्रभुता का सम्मान करे।