वैज्ञानिकों ने पहली बार एक बड़ी कामयाबी हासिल

हमारे सौर मंडल के बाहर पृथ्वी से कुछ बड़े एक ग्रह पर वायुमंडल की उपस्थिति का पता लगाया है। अध्ययन के अनुसार सौर मंडल से बाहर स्थित ग्रह 'जीजे 1132 बी' पृथ्वी से लगभग 39 प्रकाश वर्ष दूर स्थित है। इसकी त्रिज्या पृथ्वी से 1.4 गुणा ज्यादा और इसका वजन पृथ्वी के वजन से 1.6 गुणा ज्यादा है। जब पहली बार इस ग्रह को खोजा गया था - शोधकर्ताओं ने यहां चट्टानों और सतह पर काफी ज्यादा तापमान की वजह से इसे शुक्र ग्रह की तरह का एक और ग्रह माना था। बाद में शोधकर्ताओं ने दोनों ग्रहों पर एक ही तरह के वायुमंडल की समानता को भी रेखांकित किया।

इस अध्ययन में शामिल शोधकर्ताओं ने बताया कि -

पर्यवेक्षकों ने पहले इस ग्रह के आसपास बृहस्पति ग्रह जैसे विशाल गैस के आवरण होने की बात कही थी जो 'जीजे 1132' के पास वातावरण की पुष्टि का पहला सबूत था। लंदन के कीले विश्वविद्यालय के शोधकर्ता जॉन साउथवर्थ ने एक वक्तव्य में कहा, 'किसी भी दूसरे ग्रहों में अब तक जीवन की खोज नहीं हुई है इसलिये यह सही दिशा में काफी महत्वपूर्ण पहल है।' सुपर अर्थ जीजे 1132बी में वायुमंडल की उपस्थिति का पता चलने से मानव के किसी दूसरे ग्रह में बसने और सौरमंडल से इतर जीवन की संभावनाओं के बारे में पता चला है। गौरतलब है कि चिली स्थित यूरोपीय दक्षिणी वेधशाला (इसीओ) से खगोलविदों ने टेलिस्कोप का प्रयोग कर इस ग्रह की तस्वीर खींची थी।