भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से उनके आवास पर मुलाकात की। राष्ट्रपति चुनावों के लिए सहयोगी दलों से समर्थन हासिल करने की कवायद के तहत यह मुलाकात हुई। शिवसेना के सूत्रों के मुताबिक शाह ने ठाकरे को बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सर्वोच्च संवैधानिक पद के लिए राजग के उम्मीदवार का फैसला करेंगे। सूत्रों के मुताबिक इस पर शिवसेना प्रमुख ने कहा कि भाजपा द्वारा इस पद के लिए उम्मीदवार के लिए अपनी पसंद का खुलासा करने के बाद पार्टी समर्थन के मुद्दे पर फैसला लेगी। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ शाह ठाकेमातोश्री पहुंचे और बंद कमरे में बैठक की। दोनों के बीच मुलाकात सुबह करीब 10 बजे शुरू हुई और यह 75 मिनट तक चली। ठाकरे के आवास पर गए भाजपा की प्रदेश इकाई के प्रमुख रावसाहेब दानवे और शिवसेना के वरिष्ठ सांसद और पार्टी अध्यक्ष के करीबी सहयोगी संजय राउत इस बैठक का हिस्सा नहीं थे। सूत्रों के मुताबिक, बैठक के दौरान शाह ने शिवसेना से राष्ट्रपति पद के लिए भाजपा नामित उम्मीदवार के समर्थन की अपील की। ठाकरे ने हालांकि कहा कि वह 17 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनावों के लिए अपने समर्थन से पहले सत्ताधारी पार्टी के उम्मीदवार का नाम जानना चाहेगी। सूत्रों ने कहा कि शाह ने कहा कि उम्मीदवार के नाम का ऐलान नरेंद्र मोदी द्वारा किया जाएगा। हमें शिवसेना का समर्थन मिलने की उम्मीद है। ठाकरे ने कहा कि उनकी पार्टी को उम्मीदवार के नाम का ऐलान करना चाहिए उसके बाद ही शिवसेना यह फैसला कर सकती है कि समर्थन देना है या नहीं।