सीतामढ़ी। मुंबई से कमा कर छठ के अवसर पर घर लौट रहे रीगा थाने के चोटाही गांव निवासी मिथिलेश कुमार को चाकू घोंप चालीस हजार नकद एवं मोबाइल लूटने संबंधी कांड का नगर थाना पुलिस ने उदभेदन कर लिया है। कांड में संलिप्त एक शातिर को दबोचा गया है। जबकि अन्य की तलाश की जा रही है। इस मामले में मजदूर को चाकू घोंपने का आरोपी लूटपाट के एक अन्य मामले में जेल में बंद है, उसको भी रिमांड पर लेने की तैयारी की जा रही है।प्रवासी मजदूर लूटपाट का खुलासा, शातिर गिरफ्तार जानकारी के अनुसार, चोटाही के मिथिलेश से अक्टूबर महीने में बाइपास रोड सीता सेतु के पास हुई लूटपाट की घटना में चार-पांच बदमाशों की संलिप्तता रही थी। इसमें सुरसंड थाना के पिपराही तथा वर्तमान में चकमहिला बस स्टैंड निवासी संजीत कुमार को पुलिस ने तत्काल गिरफ्तार कर लिया था। जबकि अन्य फरार चल रहा था।

जेल में बंद बदमाशा से बेच दिया मोबाइल

पुलिस ने टेक्निकल र्सिवलांस की मदद ली। पाया गया कि लूट की मोबाइल का शहर के कोट बाजार वार्ड 13 निवासी विशाल कुमार उर्फ पहाड़ी ने इस्तेमाल किया है। विशाल को जब पकड़ा गया तो उसने पूछताछ में बताया कि चार दिनों तक सिम लगाकर उक्त मोबाइल का इस्तेमाल किया। उसके बाद उक्त मोबाइल जेल में बंद ओमप्रकाश नामक बदमाश से बेच दिया है। जिसका इस्तेमाल जेल के बंदी कर रहे हैं। उसने बताया कि संजीत को कोट बाजार के ही रवि ने चाकू घोंपा था। वह अभी एक दूसरे मामले में जेल में है। लूट के बाद घटना में संलिप्त चारों बदमाशों ने रकम का आपस में बंटवारा कर लिया था। मोबाइल उसके हिस्से आया। छापेमारी में अनुसंधानकर्ता एसआइ अशोक कुमार, अशोक कुमार दास एवं सशस्त्र बल शामिल रहे। विशाल पहले भी चोरी, छिनतई के मामलों में जेल जा चुका है। कांड में संलिप्त दो अन्य बदमाशों की तलाश की जा रही है।