मथुरा। बदमाशों ने रात द्वारिकाधीश मंदिर के पैरोकार की निर्ममतापूर्वक हत्या कर दी गई। हत्या से पहले उसकी आंखें फोड़ीं गई फिर चाकुओं से गोद गोदकर मौत के घाट उतारा गया। मथुरा होलीगेट के अंदर माता गली निवासी 70 वर्षीय कैलाश उपाध्याय द्वारिकाधीश मंदिर से संबंधित मुकदमों की पैरोकारी करते थे। घर पर अकेले ही रहते थे।मथुरा में द्वारिकाधीश मंदिर के पैरोकार की चाकुओं से गोदकर हत्या, आंख फोड़ी उनकी पत्नी का देहांत हो चुका है और इकलौती बेटी नेहा की शादी हो चुकी है और पास के ही मोहल्ले में रहती है। शनिवार रात कैलाश घर में सोए थे। सुबह हालचाल जानने के लिए पिता के घर पहुंचने पर घटना की जानकारी उसे मिली। बदमाशों ने कैलाश के चेहरे पर चाकू से कई वार कर हत्या कर दी थी। उनकी आंखें भी फोड़ दीं थी। बेटी नेहा ने अज्ञात में रिपोर्ट दर्ज कराई है।फॉरेंसिक टीम ने जांच-पड़ताल की। पुलिस ने बताया कि अभी हत्या का कारण पता नहीं लग सका। सभी बिंदुओं को ध्यान में रखकर जांच की जाएगी। 

सीतापुर में ग्राम प्रधान की हत्या

सीतापुर के कुंडी गांव के पास भसैंहा गांव के प्रधान की हत्या कर दी गई। प्रधान का शव रात भर रास्ते में लावारिस पड़ा रहा। सुबह गांव के लोगों ने शव के पास में ही बाइक व मोबाइल फोन पड़ा देख इसकी सूचना पुलिस को दी। प्रधान के भाई ने पूर्व प्रधान व उसके भाई के विरुद्ध हत्या का केस दर्ज कराया है।भैंसहा गांव के प्रधान व लकड़ी ठेकेदार शिवनाथ यादव (48) शनिवार को किसी काम से बिसवां गए थे। वहां से देर रात बाइक से वापस आ रहे थे। कुंडी गांव के करीब घात लगाए बैठे लोगों ने उन पर फायरिंग कर दी। एक गोली प्रधान की पीठ में जा धंसी। गोली लगते ही वह ढेर हो गए। प्रधान के भाई बछरू यादव ने गांव के ही पूर्व प्रधान भैयालाल बाजपेयी व उसके भाई विनोद को नामजद किया है। एसओ का कहना है कि घटना के पीछे चुनावी रंजिश है।

संतकबीरनगर में ग्राम प्रधान की हत्या

संतकबीर नगर के महुली थाना क्षेत्र के ग्राम शनिचरा बाबू गांव के सिवान में रविवार को बदमाशों ने बस्ती जिले के गांव पंचायत चलुआ महुराई के प्रधान रामचईत्तर चौहान की गोली मारकर हत्या कर दी। प्रधान अपने बेटे व पत्नी के साथ सुबह सरयू स्नान करने बिडहर घाट जा रहे थे। प्रधान की पत्नी ने बताया कि हत्यारों में एक व्यक्ति ने पुलिस की वर्दी पहन रखी थी। थानाध्यक्ष ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर हत्यारों की तलाश की जा रही है।