राजस्थान के हनुमानगढ़ शहर में लिंग जांच के नाम पर ठगी करने वाले एक और गिरोह का खुलासा हुआ है. पीसीपीएनडीटी की जयपुर और श्रीगंगानगर की टीम ने सयुंक्त कार्रवाई करते हुए गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है जबकि एक आरोपी फरार है. आरोपियों ने महिला से लिंग जांच के नाम पर 35000 रुपए लिए थे. पकड़े गए आरोपियों से 24 हजार रुपये बरामद किए गए हैं. हनुमानगढ़ जंक्शन स्थित भाम्भू अल्ट्रासाउंड सेंटर पर सात सौ रुपये लेकर महिला की सोनोग्राफी कर दी गई. इस बीच वहां खड़े सुरजीत सिंह ने महिला को थोड़ी देर बाहर बैठने को कहा और बाद में कोड वर्ड में खुद ही लक्ष्मी होना बताया. इस पर पहले से ही घात लगाए बैठी टीम ने छापा मार दिया और आरोपी सुरजीत सिंह को गिरफ्तार कर लिया. इसके बाद आरोपी सुरजीत सिंह से पूछताछ के बाद टीम बॉम्बे अस्पताल की लैब में पहुंची जहां गिरोह का एक सदस्य आरोपी दलाल अपने सदस्यों में हिस्से की राशि बांटकर फरार हो चुका था, जबकि बॉम्बे लैब पर काम करने वाला सतनाम सिंह  गिरफ्त में आ गया. तलाशी के दौरान सतनाम और सुरजीत के कब्जे से 24 हजार रुपये बरामद हो गए जबकि 9 हजार रुपये लेकर मुख्य दलाल फरार हो गया. कार्रवाई करने वाली टीम में जयपुर पीसीपीएनडीटी थाना के सीआई अरुण चौधरी, एसआई विक्रम सिंह शेरावत, शंकर सिंह, देवेंद्र, श्रीगंगानगर पीसीपीएनडीटी कोर्डिनेटर रणदीप सिंह आदि मौजूद रहे.