गर्मी के मामले में 137 सालों में दूसरे नंबर पर रहा इस साल का मई महीना

गर्मी का रिकॉर्ड टूटता ही जा रहा है और इस साल का मई महीना पिछले 137 में गर्मी के मामले में दूसरे नंबर पर रहा है. नासा ने इसकी जानकारीद दी है. पिछले दो सालों में इस साल मई में सबसे ज्यादा तापमान रहा. इससे पहले सबसे गर्म मई महीना साल 2016 में था. इस दौरान तापमान विशेष सांखियकी गणना के अनुसार औसत तापमान से 0.93 डिग्री सेल्सियस ज्यादा दर्ज किया गया था.
यह भी पढ़े :  कर्नाटक के मंत्री के 35 ठिकानों पर IT रेड, 5 करोड़ नकद मिला दिल्ली वाले घर से
साल 1951 से 1980 तक यह औसत तापमान मई के तापमान की तुलना में पिछले महीने 0.88 डिग्री सेल्सियस ज्यादा था. 2014 रहा था तीसरे नंबर पर इस साल मई में तापमान पिछले साल मई की तुलना में 0.05 डिग्री सेल्सियस कम था. मई में सबसे गर्म तापमान के मामले में तीसरे नंबर पर रहे वर्ष 2014 की तुलना में इस साल तापमान 0.01 डिग्री सेल्सियस ज्यादा रहा.
यह भी पढ़े :  EAM पर हमला कांग्रेस का , कहा- इराक में 39 गायब भारतीयों पर सुषमा ने बोला झूठ
नासा के गोडार्ड इंस्टीट्यूट फॉर स्पेस स्टडीज :जीआईएसएस: में वैज्ञानिकों ने दुनियाभर के करीब 6300 मौसम विज्ञान स्टेशनों, समुद्र की सतह का तापमान मापने वाले उपकरणों और अंटार्कटिका अनुसंधान स्टेशन के सार्वजनिक तौर पर उपलब्ध डेटा को एकत्र करके मासिक विश्लेषण किया है. आधुनिक वैश्विक तापमान रिकॉर्ड व्यवस्था साल 1880 के आस पास शुरू हुई थी क्योंकि पहले के पर्यवेक्षणों में ग्रह के पर्याप्त भाग का पर्यवेक्षण नहीं हो पाता था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *