नई दिल्ली : भारतीय रेलवे वक़्त दर वक़्त प्रगति करता जा रहा है. इंटरनेट के आधुनिक ज़माने में अब रेलवे भी पीछे नहीं रहा है. भारतीय रेलवे देशवासियों को किसी भी तरह की राहत पहुंचाने से कभी भी पीछे नहीं हटता. ऐसे ही एक बार फिर रेलवे ने उस बरसों चले आ रहे इतिहास को बदल के रख दिया है जिससे देश के लोग हद से ज़्यादा ऊब गए थे और बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता था वो अलग से. Image result for piyush goyal भारतीय रेलवे ने बदल दिया वर्षों से चला आ रहा इतिहास अभी मिल रही ताज़ा खबर के मुताबिक नए साल से ठीक पहले जहाँ लोग अभी से तैयारियों में और जश्न के माहौल में डूब रहे हैं. ऐसे में मुंबईवासियों को रेलवे ने नए साल का बेहद शानदार तोहफा दिया है. खासकर उन लोगों को जो यहां की लोकल में सफर करते हैं. मुंबई की लोकल में सफर करना अपने आप में एक बहुत बड़ा चैलेंज की बात है. भद्दर गर्मी और खचाखच से भरी हुई ट्रेन में सफर करना लोगों के लिए अत्यधिक कठिनाई वाला होता है और इसी कठिनाई का सामना लोग वर्षों से करते आ रहे थे. इसलिए रेलवे ने आज से मुंबई यात्रियों को ठंडक और सुकून भरे सफर की शुरुआत कर दी है. 19 महीने के ट्रायल रन के बाद मुंबई में आज से AC लोकल चलने लगेगी. 12 कोच वाली इस लोकल के दरवाजे ऑटोमैटिक हैं साथ ही डिब्बे एक दूसरे से जुड़े हुए हैं. पहली लोकल अंधेरी के चर्चगेट के लिए रवाना होगी. AC लोकल सेवाओं में भी सामान्य लोकल की तरह दिव्यांग, वरिष्ठ नागरिक और महिला यात्रियों के लिए सीटें रिजर्व होंगी. सभी कोच में सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए RPF जवानों की तैनाती की गई है. भारतीय रेलवे ने बदल दिया वर्षों से चला आ रहा इतिहास, नए साल से पहले जनता को दी शानदार सौगात पहले इस एक लोकल ट्रेन को 1 जनवरी को सौंपने की योजना बनायीं गयी थी लेकिन फिर बाद में इसे क्रिसमस वाले दिन शुरू करने का निर्णय लिया गया.रेलवे के मुताबिक मुंबई में AC लोकल की सेवाएं सिर्फ़ सोमवार से शुक्रवार तक ही चलेंगी. मुंबई की पहली एसी ईएमयू का किराया मौजूदा फर्स्ट क्लास के बेस फेयर से लगभग डेढ़ गुना ज्यादा होगा. हालांकि पश्चिम रेलवे ने शुरुआती दौर में 6 महीने डिस्काउंट देने का फैसला किया है और मुसाफिरों के लिए इस किराए को फर्स्ट क्लास के बेस फेयर से 1.2 फीसद ही रखना तय किया है. लेकिन भारतीय रेलवे अब यहीं नहीं रुकेगा. मुंबई के अलावा कोलकाता, चेन्नई और सिकंदराबाद की लोकल ट्रेनों में एयर कंडीशन्ड बोगियां और स्वचालित दरवाजे लगाने की योजना बनायीं जा रही है. रेल मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि 2019-2020 से सभी नई ईमएयू रेलगाड़ियों में स्वचालित दरवाजों के साथ एसी बोगियां होंगी. हमने इन्हें चेन्नई, बेंगलुरु, कोलकाता और सिकंदराबाद जैसे शहरों में पेश करने की योजना बनाई है.