बर्मिंघम: भारत और बांग्‍लादेश के खिलाफ बर्मिंघम में खेले जा रहे चैंपियंस ट्रॉफी के दूसरे सेमीफाइनल में दौरान बांग्‍लादेश टीम को मुफ्त में ही पांच पेनल्‍टी रन मिल गए. भारतीय फील्‍डर युवराज  सिंह का थ्रो विकेटकीपर धोनी जब विकेट पर मारने की कोशिश कर रहे थे तो यह जमीन पर पड़े उनके ग्‍लव्‍ज से टकरा गया. इस पर अंपायर ने बांग्‍लादेश के पक्ष में पांच पेनल्‍टी रन अवार्ड किए. चैंपियंस ट्रॉफी के दूसरे सेमीफाइनल के दौरान यह वाकया बांग्‍लादेश की पारी के 40वें ओवर का है. गेंदबाजी भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन कर रहे थे. ओवर की तीसरी गेंद को बांग्‍लादेश के मेहमुदुल्‍ला ने लेग साइड में खेला. गेंद बाउंड्री की ओर से गई जहां से युवराज ने थ्रो फेंका. इस थ्रो को कलेक्‍ट कर धोनी ने विकेट पर मारने की कोशिश की लेकिन इस कोशिश में गेंद विकेट के पास गिरे उनके एक ग्‍लव्‍ज से टकरा गई. इसके कारण बांग्‍लादेश के खाते में पांच रन जोड़े गए. इन पांच पेनल्‍टी रन को मिलाकर ओवर में कुल 9 रन बने. क्रिकेट में किसी टीम के खाते में पेनल्‍टी रन जुड़ने की घटनाएं आमतौर पर कम ही देखी जाती हैं. मैच में भारतीय कप्‍तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर बांग्‍लादेश को पहले बल्‍लेबाजी के लिए आमंत्रित किया. पारी के पहले ही ओवर में बांग्‍लदेश टीम को सौम्‍य सरकार (0) के रूप में झटका लगा. शब्‍बीर के रूप में दूसरा विकेट भी 31 रन के स्‍कोर पर गिर गया लेकिन इसके बाद तमीम इकबाल और मुशफिकुर रहीम ने अर्धशतक जमाए. मैच में बांग्‍लादेश टीम 50 ओवर में सात विकेट पर 264 रन बनाने में कामयाब रही.