राष्ट्रपति चुनाव को लेकर विपक्ष में बीजेपी के खिलाफ गोपाल कृष्ण गांधी को उतारने की बातें सामने आ रही थी. लेकिन जब उनसे जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव के लिये उनकी उम्मीदवारी के बारे में कहना अभी कुछ भी कहना सम्भव नहीं है. इस पर बात करना अभी जल्दबाजी होगी. जब उनसे चुनाव के लिए उम्मीदवारी को लेकर उनकी योजना के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वो अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं देना चाहता है. उन्होंने कहा कि इस बारे में बात करना अभी जल्दबाजी होगी. मैं अभी इसके लिए तैयार नहीं हूं. बता दें कि राष्ट्रपति उम्मीदवार को लेकर विपक्षी दलों में दो नामों पर सहमति बन रही थी, जिसमें गोपाल कृष्ण गांधी का नाम सबसे आगे हैं. इसके अलावा पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार के नाम पर भी चर्चा है. इस बाबत कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने गोपाल कृष्ण गांधी से बात भी की है. गोपाल कृष्ण गांधी उम्मीदवार बनाने के पक्ष में विपक्ष ममता बनर्जी ने भी गोपाल कृष्ण गांधी को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाए जाने के पक्ष में हैं. गोपाल कृष्ण गांधी ने ये बताया कि विपक्ष के नेताओं उनसे राष्ट्रपति चुनाव में उम्मीदवार बनाने को लेकर चर्चा भी की है. बता दें कि इससे पहले साल 2012 में तृणमूल कांग्रेस एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उपराष्ट्रपति चुनाव लड़ने का प्रस्ताव दिया था, लेकिन उन्होंने इसको ठुकरा दिया था.