नई दिल्ली।

देश के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी की ओर से रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड में अपनी हिस्सेदारी के पुनर्गठन

की घोषणा (कुल वैल्यू 22 बिलियन डॉलर) के ठीक बाद आरआईएल के शेयर्स नौ महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंच गए।

रिलायंस के शेयर्स 4.1 फीसद की तेजी के साथ 1,287.80 रुपये के स्तर पर पहुंच गए,

जो कि मई 2008 के बाद का अब तक का सबसे उच्चतम स्तर है।

21 फरवरी 2017 की उस घोषणा के बाद जिसमें उसने कहा था कि टेलिकम्यूनिकेशन यूनिट अप्रैल महीने से ही अपनी

सेवाओं के लिए शुल्क वसूलेगी, के बाद कंपनी को 18 फीसद तक का गेन हुआ है।

मुकेश अंबानी रिलायंस में अपने शेयर्स को 15 संस्थाओं में से 8 फर्मों में स्थानांतरित करेंगे।

एक्सचेंज में फाईलिंग के दौरान दी जानकारी-

-कंपनी ने एक्सचेंज में अपनी फाइलिंग के दौरान गुरुवार को यह जानकारी दी।

-इस फाइलिंग के मुताबिक ये आठ फर्म 9 मार्च से पहले ट्रांसफर ऑन एक्सचेंज के जरिए करीब 1.2 बिलियन शेयर्स का अधिग्रहण करेंगीं।

-गुरुवार को बंद हुए बाजार की ताजा स्थिति के मुताबिक इन शेयर्स की कीमत करीब 1.5 ट्रिलियन रुपए बताई जा रही है।

-गुरुवार को कंपनी का शेयर 1,236.75 रुपए पर बंद हुआ था।

स्टॉक एक्सचेंज पर कारोबार 

-करीब 1.30 बजे बंबई स्टॉक एक्सचेंज पर रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) का शेयर 2.41 फीसद की तेजी के साथ 1263 के स्तर पर कारोबार कर रहा है।

-शेयर में 29.75 अंकों की बढ़ोतरी देखने को मिल रही है।

-आरआईएल का दिन का उच्चतम 1287.80 का स्तर और निम्न 1237 का स्तर है।

-वहीं, इसका 52 हफ्तों का उच्चतम 1287.80 का स्तर और निम्न 925.70 का स्तर रहा है।