नई दिल्ली : जब भी देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की बात की जाती है, तो कोंग्रेसी उन्हें भारत की आयरन लेडी बताते हैं, जिन्होंने पाकिस्तान के दो टुकड़े करवा दिए और भी कई बड़े बहादुरी के काम किये. हालांकि एमओ मथाई, जोकि 1946 से लेकर 1959 तक नेहरू के सेक्रेटरी थे और नेहरू उनपर काफी भरोसा भी करते थे, उनकी किताब ‘Reminiscences of the Nehru Age’ में उन्होंने नेहरू परिवार की काली सच्चाई पर से पर्दा उठा दिया था. Image result for Reminiscences of the Nehru Age इसी किताब में ‘She’ नाम से एक चैप्टर लिखा गया इसी किताब में ‘She’ नाम से एक चैप्टर लिखा गया, जिसमे इंदिरा गाँधी के बारे में कुछ ऐसी-ऐसी बातें बतायी गयीं, जिन्हे देख आप भी हैरत में पड़ जाएंगे. नेहरू के सेक्रेटरी इंदिरा गाँधी के कुछ ज्यादा ही करीब आ गए थे. अपनी किताब में मथाई ने नेहरू के प्रति काफी सम्मान प्रकट किया, लेकिन उन्होंने एडविना, पद्मजा नायडू (सरोजिनी नायडू की बेटी), मृदुला साराभाई और कईयों के साथ नेहरू के अन्तरंग संबंधों के बारे में भी खुलकर बताया. नेहरू इन महिलाओं को प्रभावित करने में इतना व्यस्त थे कि भारत के प्रति अपनी जिम्मेदारियों को ही नज़रअंदाज कर गए. परिणामस्वरूप भारत चीन के साथ 1962 में युद्ध हार गया. Image result for एमओ मथाई, मथाई ने अपनी किताब में ‘She’ नाम से एक पूरा खण्‍ड लिखा, जिसमे उन्होंने अपने इंदिरा गाँधी के साथ यौन संबंधों से जुडी एक-एक बात विस्तार से लिखी. मथाई के इंदिरा गाँधी के साथ इस कदर रोमांटिक संबंध थे कि इससे इंदिरा गाँधी के घर में संकट तक पैदा हो गया था. ये बात तो किसी से छिपी नहीं कि नेहरू फिरोज गाँधी को ज़रा भी पसंद नहीं करते थे. मथाई ने लिखा है कि इंदिरा गाँधी के साथ करीब 12 साल तक उनका अफेयर रहा, ‘उनकी (इंदिरा) क्लियोपेट्रो जैसी नाक थी, पॉलिन बोनापार्ट जैसी आंखें और वीनस जैसे स्‍तन थे.’   मथाई ने इस खंड में लिखा कि इंदिरा ‘बिस्‍तर में बेहद अच्‍छी थीं’ औरं सेक्‍स में ‘वह फ्रेंच महिलाओं और केरल नायर महिलाओं का मिश्रण थीं.’ किताब में यह भी दावा किया गया है कि वह लेखक (मथाई) से गर्भवती हो गई थीं और गर्भपात कराना पड़ा था. उन्होंने लिखा कि एक बार इंदिरा ने उनसे (मथाई) कहा कि, ‘वो उनके साथ सोना चाहती हैं, कल रात मुझे जन्नत की सैर करवायो.’ जिसपर मथाई ने जवाब दिया कि उन्होंने इससे पहले कभी किसी महिला के साथ कुछ किया नहीं. जिसपर इंदिरा ने उन्हें डॉ अब्राहम स्टोन की सेक्स और महिला शरीर रचना पर लिख एक किताब पढ़ने के लिए दी. इसके अलावा भी मथाई ने इंदिरा के साथ अपनी ऐसी कई अंतरंग बातें लिखी, जिनके बारे में हम यहाँ लिख तक नहीं सकते. बहरहाल जब मथाई का इंदिरा के साथ इतना अच्छा रिश्ता था, तो आखिर उन्होंने उस रिश्ते को ख़त्म क्यों कर दिया? इसके बारे में मथाई ने लिखा कि इंदिरा के एक नहीं बल्कि कई मर्दों के साथ सम्बन्ध थे. एक दिन जब मथाई, इंदिरा से मिलने गए तो उन्होंने इंदिरा को धीरेन्द्र ब्रह्मचारी नाम के एक व्यक्ति जो इंदिरा को योग सिखाते थे, के साथ सम्बन्ध बनाते देख लिया. ये पल उनका इंदिरा के साथ रिश्ते का अंतिम पल बन गया और उन्होंने रिश्ता ख़त्म कर दिया. कई अपुष्‍ट ऑनलाइन वर्जन में इंदिरा के हवाले से कहा गया कि इंदिरा गाँधी ने एक बार कहा था कि वो किसी हिन्दू के साथ अफेयर तो कर सकती है, लेकिन किसी हिन्दू के साथ शादी नहीं कर सकती.