फतेहपुर। गाजीपुर क्षेत्र के महमदपुर में बीती रात एक युवक हाथ-पैर बांध निर्ममतापूर्वक हत्या कर दी गई। वह अपने घर का एकलौता चिराग था। हत्या के पूर्व छटपटाने पर उसके हाथ पैर बांध दिए गए और आत्महत्या का रुप देने के लिए फांसी पर लटका दिया गया। सनसनीखेज हत्याकांड की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक श्रीपर्णा गांगुली मौका-ए-वारदात पर पहुंचकर स्थलीय जायजा लिया। इलाकाई पुलिस ने मृतक का मोबाइल बरामद कर सर्विलांस में लगवा दिया है। तहरीर मिलने पर अज्ञात में हत्या का मुकदमा कायम कर लिया गया है।मुंह में कपड़ा ठूंसकर निर्मम हत्या, छटपटाने पर हाथ-पैर बांध फांसी पर लटकाया महमदपुर गांव निवासी 20 वर्षीय नीरज पासवान की मां सुमेरकली, दो बहनें नीतू व ननकी देवी शुक्रवार रात घर के बाहर छप्पर के नीचे सो रहीं थी। बताते हैं कि नीरज अपने पड़ोसी दो दोस्तों के साथ कोठरी में तखत पर सोने चला गया। भोर पहर परिजनों की नींद खुली तो नीरज का शव धन्नी में रस्सी से फांसी पर लटका हुआ मिला। जिसके हाथ व पैर बंधे थे। पैर तखत पर रखे हुए थे। करुण क्रंदन की चीत्कार कर रही गमजदा मां का आरोप था कि बेटे की गला घोंटकर हत्या की गई है। अनुमान है कि बेटे के चीख पुकार करने एवं छटपटाने पर हत्यारों ने उसके मुंह में कपड़ा ठूंसकर हाथ पैर भी बांध दिए थे जिससे बेटे की चीख तक नहीं निकल पाई। खबर पाकर एसपी के साथ अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह व एसओ धीरेंद्र कुमार सिंह भी मय फोर्स पहुंचे।  मृतक के चाचा राजकुमार पासवान ने बताया कि भतीजे नीरज के साथ पड़ोसी दो युवक भी सोए थे जिन्हें इलाकाई पुलिस पूछताछ के लिए उठाकर ले गई है। भतीजा चार बहनों के बीच अकेला था। बताया कि भतीजे के मोबाइल को पुलिस ने कब्जे में ले लिया है जिसके सर्विलांस में लगाने से हत्या का रहस्य खुल सकता है। एसओ धीरेंद्र कुमार ङ्क्षसह का कहना था कि मृतक के पारिवारिक दादा धनराज पासवान की तहरीर मिलने पर अज्ञात में हत्या का मुकदमा कायम कर जांच पड़ताल की जा रही है, शीघ्र ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा। 

मुंबई से आकर पल्लेदारी करता था 

फतेहपुर के महमदपुर निवासी कुंवर पासवान की करीब तीन माह पूर्व टीबी रोग की वजह से मौत हो गई थी जिस पर उनका इकलौता बेटा मुंबई से घर आ गया था। गमजदा मां सुमेरकली ने बताया कि बेटा मुंबई में सेटरिंग का काम करता था। घर में सिर्फ 15 बिस्वा जमीन थी जिससे खर्च नहीं चल पाता था इसलिए बेटा फतेहपुर शहर स्थित गल्ला गोदाम में पल्लेदारी करता था। बताया कि चार बेटियों में दो बेटियों की शादी हो गई थी। 

प्रेम प्रसंग में तो नहीं की गई हत्या !  

फतेहपुर के ग्रामीणों के बीच तरह तरह की चर्चांए रहीं। ग्रामीणों का संदेह था कि कहीं प्रेमप्रसंग के चलते तो हत्या नहीं की गई। हालांकि इस बाबत परिजन कुछ भी बताने से यह कहकर इंकार करते रहे कि बेटे की किसी से कोई रंजिश नहीं थी। शव को पोस्टमार्टम हाउस भेजने के बाद  इलाकाई पुलिस ने उसका मोबाइल बरामद करने के बाद पूछताछ के लिए महमदपुर गांव के एक युवती समेत चार लोगों को पूछताछ के लिए उठाया है। एसओ धीरेंद्र कुमार सिंह का कहना था कि अभी पूछताछ चल रही है।