मुझे चाहे किसी भी हद तक जाना पड़े, मैं जाऊंगा. मैं उत्तराखंड के भविष्य से किसी को भी खिलवाड़ करने नहीं दूंगा. साथ ही किसी की गुंडागर्दी चलने नहीं दूंगा. ये बात उत्तराखंड के खेल मंत्री अरविन्द पांडेय ने कही. उन्होंने एक चौकाने वाला खुलासा करते हुए कहा कि उत्तराखण्ड में महिला क्रिकेट खिलाड़ियों के साथ योन शोषण हो रहा है?खेल मंत्री अरविन्द पांडेय ने कही ये बात- चाहे मंत्री पद चला जाये ये सब नहीं होने दूंगा उन्होंने सभी खेल संघो को अभी भी सुधर जाने कि चेतावनी देते हुए कहा कि चाहे मंत्री पद चला जाये में ये सब नहीं होने दूंगा. खेल मंत्री ने आगे कहा -कुछ गिरे हुए नीची कैटेगरी के लोगों की वजह से आज उत्तराखंड के होनहार खिलाड़ी उत्तराखंड से न खेलकर किसी अन्य राज्य का नाम रोशन कर रहे हैं. साथ ही ये भी कहा है कि उनके पास सभी संघों के खिलाफ पूरे पुख्ता सबूत हैं. खेल मंत्री ये भी कहा कि क्रिकेट संघों से जुड़े कुछ लोग हैं जो खेल के नाम पर महिला क्रिकेट खिलाड़ियों का जीवन बर्बाद कर रहे हैं. ऐसे लोगों के खि‍लाफ धारा 376 के तहत मुकदमा दर्ज किया जाएगा. इसलिए ये साफ़ कर देता हूं कि अगर मेरे उत्तराखंड के क्रिकेट भविष्य को मैं नहीं निखार पाया तो मुझे खेल मंत्री रहने का भी कोई अधिकार नहीं है. मैं बिना देर किए अपने खेल मंत्री पद से इस्तीफा दे दूंगा.