अमृतसर। यहां हिंदू नेता विपन शर्मा की सरेआम हत्‍या के मामले में एक और आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले का आरोपी बिक्रमजीत सिंह उर्फ कुल्ला दुबई भागने की फिराक में था। वह इस नीयत से मुंबई एयरपोर्ट पहुंचा था, लेकिन वहां पकड़ा गया।  मुंबई पुलिस ने वहां एयरपोर्ट पर उसे गिरफ्तार कर लिया। उसे अमृतसर पुलिस को सौंप दिया गया है। इस हत्‍याकांड में इससे पहले दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था।पंजाब में हिंदू नेता की हत्‍या का आरोपी भाग रहा था दुबई, मुंबई एयरपोर्ट पर गिरफ्तार बताया जा रहा है कि आरोपी 17 दिसंबर की रात मुंबई से फ्लाइट लेकर दुबई भागने की फिराक में था। उसके खिलाफ सुल्तानविंड थाने की पुलिस ने कबूतरबाजी के अन्य मामले में लुकआउट नोटिस जारी करवा रखा था। फिलहाल, पुलिस बिक्रमजीत के साथी कुख्यात गैंगस्टर शुभम और सारज मिंटू की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। डीसीपी जगमोहन ङ्क्षसह, एडीसीपी (एच) चरणजीत सिंह, एजीसीपी जगजीत सिंह वालिया और एसीपी प्रभजोत सिंह ने बताया कि 30 अक्टूबर को बटाला रोड इलाके में हिंदू नेता विपन शर्मा की हत्या में शामिल  बिक्रमजीत सिंह उर्फ कुल्ला को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। वह सुल्तानविंड रोड स्थित तेज नगर का रहनेवाला है। उन्होंने बताया कि आरोपी बिक्रमजीत ने वारदात को अंजाम देने के लिए अपनी बाइक का इस्तेमाल किया था। बिक्रमजीत की बाइक पर सारज और शुभम सवार थे।  इसके पहले मामले में अन्य बाइक का इस्तेमाल करने वाले कैमी को पहले ही धरा जा चुका है। डीसीपी ने बताया कि पूछताछ में सामने आया है कि वारदात को अंजाम देने के बाद बिक्रमजीत सिंह गैंगस्टर सारज उर्फ मिंटू मंडीवाला और शुभम के साथ ही रहा। लगभग 20 दिन पहले बिक्रमजीत सारज से अलग होकर मुंबई पहुंच गया। वहां से वह दुबई भागने की फिराक में था। डीसीपी ने बताया कि पेशे से ट्रेवल एजेंट बिक्रमजीत ने वर्ष 2016 में विदेश भेजने के नाम पर एक व्यक्ति से लाखों रुपये ठग लिए थे। इस बाबत सुल्तानविंड थाने में केस भी दर्ज किया गया था। उसी केस के संबंध में पुलिस ने बिक्रमजीत के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी करवा रखा था। वह मौका पाकर आरोपी दुबई जाने के लिए मुंबई एयरपोर्ट पहुंचा। लुकआउट नोटिस की जानकारी पहले ही एयरपोर्ट अथारिटी को पहुंच चुकी थी। इससे पहले आरोपी फ्लाइट में चढ़ पाता, मुंबई पुलिस ने उसे धर लिया। बताया जा रहा है कि अमृतसर के सब इंस्पेक्टर रवि दत्त को पुलिस अधिकारियों ने बिक्रमजीत सिंह को गिरफ्तार करने के लिए मुंबई भेजा था। 20 दिसंबर को रवि दत्त आरोपी को लेकर अमृतसर पहुंचे। डीसीपी जगमोहन सिंह ने बताया कि आरोपी से पूछताछ की जा रही है।

गाजियाबाद की महिला की भी हो सकती है गिरफ्तारी

डीसीपी जगमोहन सिंह ने बताया कि कैमी की महिला मित्र को भी गाजियाबाद से गिरफ्तार किया जा सकता है। फिलहाल उससे पूछताछ की जा रही है। वारदात में कैमी ने अपनी महिला मित्र की कार का इस्तेमाल किया था, जिसे पहले ही गाजियाबाद से बरामद किया जा चुका है। फिलहाल महिला की संलिप्तता हत्याकांड में कहीं दिखाई नहीं दी है।