मैं जीवन से हार चुका हूं। अभी तक कुछ नहीं सीखा लिख कर छात्र ने लगाई फांसी

 मैं जीवन से हार चुका हूं। अभी तक कुछ नहीं सीखा, जिंदगी पर बोझ नहीं बनना चाहता हूं। यह लिख होटल मैनेजमेंट के छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

देहरादून : प्रेमनगर पुलिस के मुताबिक ग्राम जामुनवाला के प्रधान कमल धामी के माध्यम से सूचना मिली कि जामुनवाला में एक युवक ने पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली। मौके पर पहुंचने पर जामुनवाला निवासी कालू चंद्र का बेटा वीरेंद्र चंद्र (21 वर्ष) फांसी पर लटका मिला।

यह भी पढ़े :  उपराष्ट्रपति चुनाव: इनेलो देगी वेंकैया नायडू को समर्थन

-पुलिस ने बताया कि वीरेंद्र काफी दिन से मानसिक रूप से परेशान चल रहा था।

-वह एचआईटी नेहरु कॉलोनी से होटल मैनेजमेंट का कोर्स कर रहा था।

-वीरेंद्र के कमरे से सुसाइड नोट भी मिला।

-इसमें लिखा था- मैं जा रहा हूं, जिंदगी भर बोझ बनकर नहीं रहना चाहता हूं।

यह भी पढ़े :  नरेश अग्रवाल के बयान पर सपा और अखिलेश यादव अपना रुख स्पष्ट करे

-मुझ पर बहुत पैसे खर्च हो गए हैं और मैं कुछ सीख भी नहीं पाया।

-अब मैं कुछ नहीं कर सकता। जीवन से हार चुका हूं अब नहीं जीना चाहता हूं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *