एफआइआर कराने वाली महिला ने जान का खतरा बताते हुए दिल्ली पहुंची लखनऊ पुलिस के साथ आने से इन्कार कर दिया है। 

लखनऊ। परिवहन मंत्री गायत्री प्रजापति समेत उनके सात करीबियों पर दुष्कर्म समेत अन्य गंभीर धाराओं में एफआइआर कराने वाली महिला ने जान का खतरा बताते हुए दिल्ली पहुंची लखनऊ पुलिस के साथ आने से इन्कार कर दिया है। लिहाजा लखनऊ पुलिस दिल्ली में ही महिला के बयान दर्ज कराने की तैयारी कर रही है।

परिवहन मंत्री का खौफ़ -

-सीओ आलमबाग अमिता सिंह बुधवार रात महिला के बयान लेने के लिए दिल्ली पहुंच गईं।

-एसएसपी मंजिल सैनी के मुताबिक महिला लखनऊ आने में डर रही है,

-इसलिए प्रयास किए जा रहे हैं कि दिल्ली में ही मजिस्ट्रेट के सामने164 के बयान दर्ज कराए जाएं।

-इसके लिए एक पत्र के माध्यम से स्वीकृति लेनी होगी।

-अगर महिला लखनऊ आने को राजी हो गई तो घटनास्थल का निरीक्षण कराने के साथ उसके यहां बयान दर्ज होंगे।

-सीओ आलमबाग ने बताया कि महिला दिल्ली में गोपनीय स्थान पर बयान दर्ज कराना चाहती है।

-उसे लखनऊ आने में असुरक्षा महसूस हो रही है, इसलिए लखनऊ पुलिस दिल्ली में उसके बयान ले रही है।