33 फॉर्मूलों के साथ इस हॉस्पिटल में होता है एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर का इलाज

चीन में एक नया और आश्चर्यचकित कर देने वाला व्यवसाय फल फूल रहा है जो प्यार में धोखा खाए पति-पत्नियों को उनके लवर यानी प्रेमी या प्रेमिका से अलग करने के लिए काम करता है। इसे कहा जा रहा है ‘लवर फेडिंग’ यानी लवर को दूर भगाना। यहां कई लोग अपनी जिंदगी से अपने कथित दुश्मन को निकाल कर फेंकने के लिए हजारों डॉलर खर्च करने के लिए तैयार हैं। 33 फॉर्मूलों के साथ इस हॉस्पिटल में होता है एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर का इलाजलव अस्पताल की सह-संस्थापक मिंग ली मदद मांगने वाली महिलाओं को सफल शादी के राज और अपने पति का ध्यान नहीं भटकने देने के लिए क्या करना चाहिए इस बारे में सलाह देती हैं। अब तक उनके पास दस लाख से अधिक लोग मदद के लिए आ चुके हैं। मिंग ली और शू जिन मिलकर पुरुषों और महिलाओं की बेहतर वैवाहिक जीवन के लिए सभी संभावनाओं के बारे में बताते हैं और बताते हैं कि उनके पास सीक्रेट हथियार है जिससे उनके पास मदद के लिए आए व्यक्ति के साथी से ‘प्यार करने वाले’ अलग किया जा सके। मिंग ली और शू जिन बताते हैं, “हमारे पास एक चीनी प्रेमिका को अलग करने के 33 रास्ते हैं.” अपने 33 फॉर्मूलों में से शू जिन ने सिर्फ चार फॉर्मूलों का खुलासा किया है- -साथी के प्रेमी को इस बात के लिए राजी करना कि वो किसी और से प्रेम करे,  -पति के बॉस को राजी करना कि वो किसी अन्य शहर में उनका ट्रांसफर कर दें, -अपने माता-पिता या दोस्तों को शामिल कर के स्थिति में सुधार करना या  -अपने पति के चरित्र के बारे में गंदी बातें या वंशानुगत बिमारी बता कर उनकी प्रेमिका को उनसे नफरत करने के लिए बाध्य करना। बाकी फॉर्मूले बताने से इंकार करते हुए शू जिन ने कहा, ‘वो कंपनी के सीक्रेट हैं। हम मीडिया के सामने इन रास्तों के बारे में कुछ नहीं बता सकते।’ प्राचीन समय से चीन में संपन्न पुरुष पत्नी के अलावा मिस्ट्रेस रखना सामान्य बात मानते थे। माओ के नेतृत्व में इस परंपरा को गलत और गैरकानूनी करार दिया गया और महिलाओं के लिए शादी के कानून समेत अन्य कानूनों में समान अधिकारों की बात की गई। लेकिन 1976 में माओ की मौत के बाद आर्थिक सुधारों के बाद कई लोगों के पास काफी पैसा जमा हो गया था और वो धनी और ताकतवर बन गए थे। इनमें कई चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के नेता भी थे। धीरे-धीरे ये लोग पुरानी परंपराओं की तरफ लौटने लगे।  सरकारी मीडिया में प्रकाशित एक खबर के अनुसार मौजूदा राष्ट्रपति शी जिनपिंग के नेतृत्व में चलाए गए भ्रष्टाचार रोधी अभियान के तहत जितने अधिकारियों को दोषी पाया गया उनमें से 95 फीसदी अधिकारियों की एक या एक से अधिक लवर थीं। 17 सालों से इसी क्षेत्र में काम कर रहे लव अस्पताल का कहना है कि वो अब तक 10 लाख से अधिक मामलों पर काम कर चुके हैं और उम्मीद करते हैं कि वो जल्दी ही शंघाई स्टॉक एक्सचेंज में भी दिखेंगे। लेखक और सामाजिक मुद्दों पर काम करने वाली जांग लिजिया मानती हैं कि इस बात को समझने के लिए कुछ हद तक चीन के तलाक संबंधी कानूनों को समझना मददगार होगा। साल 2011 के बाद से तलाक लेने वाले किसी भी धनी व्यक्ति के लिए ये जरूरी नहीं था कि वो अपनी पत्नी को संपत्ति में हिस्सा दें। खास कर गांव में बसने वाले परिवारों के मामलों में अदालत एकमात्र बच्चे की कस्टडी भी पिता के परिवार को ही सौंपती थी। 
यह भी पढ़े :  अपने मन में साथी के साथ इन सपनों को लेकर घुमती हैं लडकियाँ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *