यूपी में सक्रिय वामदलों ने रविवार को अपने साझा प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी। उन्होंने 105 उम्मीदवारों की घोषणा की। सीपीआई, सीपीएम, सीपीआई (एमएल) और फॉरवर्ड ब्लॉक समेत छह वामदलों ने इस बार मिलकर चुनाव लड़ने का फैसला किया है। उन्होंने संयुक्त मोर्चे का गठन तो नहीं किया है। लेकिन जहां एक दल लड़ेगा, वहां न तो दूसरा दल प्रत्याशी उतारेगा और न ही वामदल के अलावा किसी अन्य पार्टी का समर्थन करेगा। इस सूची में सीपीआई के 58, सीपीएम के 18, भाकपा माले के 16 और अन्य वाम दलों के 13 प्रत्याशी हैं। इसके अलावा वामदलों ने प्रचार के तरीके में भी बदलाव का फैसला किया है। अब तक वामदलों के प्रचार बैनरों में प्रत्याशी का फोटो नहीं होता था। इस बार तय हुआ है कि बैनरों में प्रत्याशियों के फोटो लगाने की अनुमति होगी। नोटबंदी से लोगों को हो रही परेशानी, रोजगार, सेहत और शिक्षा जैसे मुद्दों पर चुनाव लड़ा जाएगा।